दांत का दर्द (Toothache)




दांत का दर्द (Toothache)



दांत हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। बात मुस्कुराने की हो या कुछ खाने की बिना दांत सब बेकार है। लेकिन किसी भी कारण यदि दांतों में दर्द हो जाए तो व्यक्ति बैचेन हो जाता है। दांतों का दर्द यूं तो एक आम समस्या है, लेकिन इसका दर्द असहनीय होता है।

दांत दर्द के विषय में (About Toothache in Hindi)

आमतौर पर कुछ खाते समय दांतों में उसका अंश फंस जाना, कैविटी, नया दांत निकलना या कोई सख्त चीज़ काटने के कारण दांतों में क्रैक की वजह से भी दांत में दर्द (Toothache) होने लगता हैं। कई बार तो दांत का दर्द कान से लेकर सिर तक चला जाता है जिसके कारण बेहद तकलीफ होती है। दांत का दर्द अधिक होने पर नींद नही आती, इसलिए दांत के दर्द (Danto me Dard) को कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिये।

दांत का दर्द के लक्षण

दांत का दर्द के कारण (Toothache Causes)

दांतों में दर्द के कई कारण हो सकते हैं। दांतों की ठीक से सफाई न करना, दांतों में कैविटी होना या अत्यधिक मीठा खाना। इसके साथ ही चाय काफी ज्यादा पीना। इसके साथ ही कुछ अन्य कारण भी हैं जैसे:

दांतों में दर्द का कारण (Causes of Tooth Pain)

1. मसूड़ों में इंफेक्शन- यदि किसी भी कारण से मसूड़ों में इंफेक्शन है तो यह दांत दर्द का कारण हो सकता है। इसके कारण टूथ इनेमल (Tooth Enamel) की समस्या भी होती है। इससे दांतों में ठंडा गर्म लगना, मुंह का स्वाद बिगड़ना, गर्दन की ग्लैंड में सूजन आना, मसूड़ों में सूजन आनाआदि समस्याएं आ सकती हैं।

2. कैविटीज- इसके कारण दांतों की ऊपरी परत नष्ट हो जाती है। कॉर्बोहाईड्रेट वाला खाना जिसमें ब्रेड, सोडा केक या कैंडी आदि दांतों पर चिपक जाए और अच्छी तरह से साफ न हो तो कैविटी (Cavity) हो सकती है जिसका परिणाम होता है दांतों में दर्द।

3. दांत में कीड़ा- इससे दांत पूरी तरह खोखला हो जाता है और उनमें खाना भर जाता है। जो कि दर्द का कारण बनता है। दर्द के कारण दांत काम नहीं करता और उन पर एक प्रकार की गंदगी जमने लगती है।

4. टूटे दांत- कुछ खाते वक्त या किसी अन्य कारण से यदि दांत टूट गए हैं तो ऐसे दांतों में दर्द की शिकायत अक्सर रहती है। ऐसे दांतों के इनेमल कमजोर हो जाती है जिससे ये सेंसिटिव हो जाते हैं।

5. फिलिंग- यदि दांतों में फिलिंग (Tooth Filling) कराई गई हो तो यह भी कई बार यह दांत दर्द का कारण हो सकती है।

अन्य कारण (Reasons of Toothache in Hindi):

कुछ अन्य कारण निम्न हैं:

  • जबड़े पर चोट लगना
  • दांत का सड़ना
  • कैविटी होना
  • कोई सख्त चीज़ काटने के कारण दांतों में क्रैक आ जाना

सामान्य उपचार

​दांत दर्द होने पर ठंडे पानी से कुल्ला करना फायदेमंद होता है लेकिन अगर इससे पूर्ण आराम नहीं मिल पाए तो निम्न उपाय करने चाहिए:

दांत दर्द का इलाज (Treatment of Toothache)

  • कोई पेनकिलर लें।
  • आइस पैक या टॉवेल में आइस लपेटकर उसे गालों पर कुछ देर के लिए रखें। अगर गालों में सूज़न आ जाए और दर्द हो तो फ्रोज़ेन पीज़ को आइसपैक की जगह लगाएँ। ये चेहरे के आकार के अनुसार बदल सकते हैं।
  • अगर दो दिनों में दर्द नहीं जाता तो डेन्टिस्ट (Dentist) के पास जाएँ। हो सकता हैं ज़्यादा कॅविटी या क्रैक की वजह से दर्द हो।
  • दांत का डॉक्टर आपके मुंह की जांच करेगा और एक्स-रे लेगा। फिर दांत का डॉक्टर दांत को ठीक करेगा या निकाल देगा। आपको दर्द निवारक दवाएं या एंटीबायोटिक लेने के लिए कहा जा सकता है। डॉक्टर की बताई गई दवाएं लें




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *